Skip to content
Home » TUMHE APNA BANANE KA SONG LYRICS IN HINDI

TUMHE APNA BANANE KA SONG LYRICS IN HINDI

TUMHE APNA BANANE KA SONG LYRICS IN HINDI

Song Lyrics Info

TUMHE APNA BANANE KA SONG LYRICS IN HINDIARMAAN MALIK | NEETI MOHAN Lyrics

 

SingerARMAAN MALIK | NEETI MOHAN
SingerARMAAN MALIK | NEETI MOHAN
MusicARMAAN MALIK | NEETI MOHAN
Song WriterARMAAN MALIK | NEETI MOHAN

 

 

तुम्हें अपना बनाने का जुनून सर पे है कब से है
मुझे आदत बना लो एक बुरी कहना ये तुमसे है
तुम्हें अपना बनाने का जुनून
सर पे है कब से है सर पे है कब से है

जिस्म के समंदर में इक लहर जो ठहरी है
उसमें थोड़ी हरकत होने दे हो शायरी सुनाती इन
दो नशीली आँखों को मुझको पास आके पढ़ने दो
इश्क की ख्वाहिशों में
भीग लो बारिशों में आओं ना

तुम्हें पाकर ना खोने का जुनून
सर पे है कब से है
मुझे नजरों में रख लो कहीं
कहना ये तुमसे है
तुम्हें अपना बनाने का जुनून
सर पे है कब से है सर पे है कब से है

रोकना नहीं मुझको जिद पे आ गई हूँ मैं
इस कदर दीवानापन चढ़ा
देखो ना यहाँ आके मेरा हाल कैसा है
टुटके अभी तक ना जुड़ा अब संभलना नहीं है
जो भी है वो सही है आओं ना

तुम्हें खुद से मिलाने का जुनून
सर पे है कब से है
मुझे रहने दे अपने पास ही
कहना ये तुमसे है
तुम्हें अपना बनाने का जुनून
सर पे है कब से है सर पे है कब से है

TUMHE APNA BANANE KA SONG LYRICS IN HINDI SONG ENGLISH LYRICS.

 

Tumhe apna banane ka junoon sar pe hai kab se hai
mujhe aadat bana lo ik buri kahna ye tumse hai
tumhe apna banane ka junoon
sar pe hai kab se hai sar pe hai kab se hai

jism ke samandar mein ik lehar jo thehri hai
usme thodi harqat hone do ho shayari sunati in
do nasheeli aankho ko mujhko paas aake padne do
ishq ki khwaahisho mein
bheeg lo baarisho mein aao na

tumhe paakar na khone ka junoon
sar pe hai kab se hai
mujhe nazro mein rakh lo kahi
kahna ye tumse hai
tumhe apna banane ka junoon
sar pe hai kab se hai sar pe hai kab se hai

rokna nahi mujhko zid pe aa gayi hu main
is qadar deewanaapan chadha
dekho na yahan aake mera haal kaisa hai
tootke abhi tak na judaa ab sambhalna nahi hai
jo bhi hai wo sahi hai aao na

tumhe khud se milane ka junoon
sar pe hai kab se hai
mujhe rehne de apne paas hi
kahna ye tumse hai
tumhe apna banane ka junoon
sar pe hai kab se hai sar pe hai kab se hai